HomeUncategorizedजिन महिलाओं के हाथ में हो ऐसी रेखाएं, तो शादी के बाद...

जिन महिलाओं के हाथ में हो ऐसी रेखाएं, तो शादी के बाद भी बनाती हैं ‘नाजायज़ संबंध’

हस्तरेखा शास्त्र में आप भी थोड़ा बहुत इंट्रेस्ट तो रखते ही होंगे। ज्योतिष के अंतर्गत आने वाले इस हस्तरेखा शास्त्र में अंग, चिन्ह, रेखा आदि के माध्यम से व्यक्ति (जातक) के लक्षण, प्रभाव और विशेषता आदि के बारे में बताया जाता है। हथेली पर बहुत सी रेखाएं होती हैं। कुछ रेखाएं सीधी-सीधी होती है जो अपने आप में महत्वपूर्ण हैं। इनमें मस्तिष्क रेखा, ह्रदय रेखा, जीवन रेखा आदि भी शामिल हैं जो शायद आपको पता होगी। इसके लिए ज्योतिष और सामुद्रिक शास्त्र में बहुत कुछ बताया गया है। ज्योतिष के अंतर्गत आने वाले हस्तरेखा शास्त्र में जहां हाथों की रेखाओं और उंगलियों आदि के बारे में बताया गया है। वहीं सामुद्रिक शास्त्र में व्यक्ति के अंगों के अध्ययन के आधार पर उसके स्वभाव, गुण आदि पर चर्चा की गई है।

ऐसे ही हथेली की रेखाओ पर महिलाओं के व्यक्तित्व से जुड़े कई राज छिपे होते  हैं  जो शायद आम लोगों को पता नहीं होता है जिसका व्याख्यान सामुद्रिक शास्त्र में दिया गया है  आज हम आपको ऐसे ही कुछ राज बताने वाले हैं जो विवाह सम्बन्ध से जुड़े हैं |जैसा की हम जानते है की  हमारे जीवन के सभी राज हमारे हाथों के लकीरों में होते  है और जब  भी व्यक्त‌ि की हथेली खुलती है तो जीवन के कई ऐसे राज खुल जाते हैं जो व्यक्त‌ि अपने जीवन में कभी किसी से नहीं बताता है  और ऐसा ही एक मामला है व‌िवाहेत्तर संबंध।

आज कल की  लाइफस्टाइल ऐसी हो चुकी है की लोग शादी से पहले से ही प्यार में पड़ जाते हैं और जात पात की वजह से बहुत से लोगों की शादियाँ नहीं हो पाती है जिसकी वजह से जिन लोगों के व‌िवाह से पहले किसी से सम्बन्ध रहता है तो वो उसे भूल नहीं पाते और जिसकी वजह से  व‌िवाह के बाद भी कई गुप चुप प्रेम प्रसंग चलते रहते हैं।जिससे लोगो के शादी शुदा जिंदगी में कई दिक्कते आने लगती हैं  लेकिन आज हम आपको ऐसा ही एक राज बताने वाले हैं जिससे किसी भी व्यक्त‌ि की हथेली देखकर इस राज से भी पर्दा उठाया जा सकता है की शादी के बाद भी उसका किसी के साथ नाजायज सम्बन्ध है या नहीं |

आपको बता दे की हथेली में बुध क्षेत्र यानी छोटी उंगली के पास हथेली के क‌िनारे से चलने वाली छोटी रेखा व‌िवाह और प्रेम प्रसंग के बारे में बताती है। शुक्र का संबंध भी व‌िवाह और वैवाह‌िक जीवन के सुख से है इसल‌िए वैवाह‌िक जीवन के मामले को यहां से भी देखा जाता है जो अंगूठे के पास होता है।

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार यदि किसी व्यक्ति की हथेली पर बुध पर्वत के पास एक से अध‌िक रेखाएं है तो ये  इस बात का सूचक माना गया है क‌ि व्यक्त‌ि के एक से अध‌िक प्रेम प्रसंग हो सकते हैं। अगर बाकी रेखाएं हल्की हैं और एक रेखा गहरी और स्पष्ट है तो यह व‌िवाह रेखा है और अन्‍य प्रेम प्रसंग की रेखा है जो कुछ समय के ल‌िए होती है।

लेक‌िन यदि एक से अध‌िक रेखा स्पष्ट और गहरी है तो ये संभव है क‌ि व्यक्त‌ि अपने जीवन में एक से अध‌‌िक के लोगो के साथ वैवाह‌िक जीवन का सुख प्राप्त कर सकता  किसी भी व्यक्ति के वैवाह‌िक जीवन का अनुकूल होने के लिए ये जरूरी होता है की व‌िवाह रेखा का आगे चलकर दो भागों में ना बंट जाये क्योंकि यदि ऐसा होता है तो  ऐसे व्यक्त‌ि का क‌िसी के साथ संबंध बन बनने का योग बनता है यानि व्यक्ति का शादी के बाद भी किस के साथ नाजायज सम्बन्ध हैयदि व‌िवाह रेखा पर  कोई दूसरी रेखा आकर मिल जाती है तो ये संकेत अच्छे नहीं होते हैं |ऐसे में प्रेमी प्रेम‌िका की वजह से वैवाह‌िक जीवन में दूरियां आने लगती हैं