यह चीज शनिवार के दिन हनुमान जी को अर्पित करें, हर कठिनाई होगी सरल

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि शनिवार का दिन विशेष रूप से शनिदेव को समर्पित है परंतु इस दिन हनुमान जी की आराधना करने से उनकी और शनिदेव की अपार कृपा मिलती है कलयुग में सिर्फ हनुमान जी ही एक ऐसे देवता हैं जो बहुत ही शीघ्र अपने भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करते हैं यदि आप शनिदेव के प्रकोप से पीड़ित हैं या फिर आपकी कुंडली में किसी प्रकार का कोई ग्रह दोष है तो शनिवार के दिन हनुमान जी को कुछ विशेष चीजों को अर्पित कीजिए इससे आपके जीवन में चल रही सभी समस्याओं से छुटकारा प्राप्त होगा आज हम आपको इस लेख के माध्यम से शनि दोष से बचने के लिए हनुमानजी के कारगर उपाय के विषय में जानकारी देने जा रहे हैं।

हनुमान जी को शनिवार के दिन अर्पित करें यह चीजें

अगर आप महाबली हनुमान जी और शनिदेव को एक साथ प्रसन्न करना चाहते हैं तो शनिवार के दिन हनुमान जी को लाल रंग के वस्त्र सिंदूर चमेली का तेल और लाल रंग के पुष्प चढ़ाएं और यदि आप शनिवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं तो इससे विशेष लाभ मिलता है यदि आप इस उपाय को करते हैं तो आपके जीवन में सभी बाधाएं दूर होंगी और धन से संबंधित सभी परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।

शनिवार के दिन कीजिए हनुमानजी के ये उपाय

आप शनिवार के दिन एक नारियल लेकर हनुमान मंदिर जाएं और हनुमान जी की मूर्ति के आगे नारियल को अपने सिर से सात बार वार लीजिए जब आप ऐसा करेंगे तो ऐसा करते हुए हनुमान जी के इन मंत्रों का जाप कीजिए ऊं रामदूताय नम: या ऊं महावीराय नम:।। सिर पर वारने के पश्चात नारियल को हनुमान जी की मूर्ति के आगे ही फोड़ दीजिए उसके बाद हनुमान जी को नारियल अर्पित कीजिए आप इस उपाय को करते समय शनि दोष और आपके जीवन में चल रही सभी परेशानियों को दूर करने की प्रार्थना कीजिए और वहां पर उपस्थित अन्य लोगों में नारियल का प्रसाद बांट दीजिए।

शनिवार के दिन पीपल के पत्ते का उपाय

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि शनिवार के दिन पीपल के पेड़ की पूजा करने का बहुत महत्व होता है ऐसा माना जाता है कि पीपल के पेड़ में शनि देव का वास होता है इसी वजह से शनिवार के दिन पीपल के पेड़ की पूजा करने से सभी तरह के शनि दोष दूर होते हैं आप शनिवार के दिन पीपल के 11 पत्ते तोड़ लीजिए यह पत्ते टूटे या फटे नहीं होने चाहिए सभी पत्तों को पानी में अच्छी तरीके से धो लीजिए और इन्हें हनुमान मंदिर ले जाइए मंदिर में सभी पत्तो पर चंदन से श्री राम लिख दीजिए और पत्तों की माला बनाकर हनुमान जी को चढ़ा दीजिए।

शनिवार के दिन सरसों के तेल का दीपक जलाइए

आपको बता दें कि शनिवार के दिन सूर्यास्त के पश्चात हनुमान मंदिर में सरसों के तेल का दीपक जलाएं इसके लिए मिट्टी का दिया सबसे ज्यादा शुभ माना गया है दीपक जलाने के पश्चात हनुमान चालीसा या सुंदरकांड का पाठ कीजिए यदि आप इस उपाय को करते हैं तो आपके जीवन के सभी कष्ट दूर होंगे और हनुमान जी और शनिदेव की कृपा प्राप्त होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Place this code at the end of your tag: