HomeUncategorizedये आदमी हैं भयंकर लक्की, पहले खुली थी 6 करोड़ की लोटरी...

ये आदमी हैं भयंकर लक्की, पहले खुली थी 6 करोड़ की लोटरी और अब मिला जमीन में गड़ा खजाना

किस्मत एक ऐसी चीज होती हैं जो रोडपति को भी करोड़पति बना देती हैं. ये बात आप ने कई बार सुनी होगी लेकिन आज हम आपको इसका एक ताज़ा उदहारण भी बताने जा रहे हैं. दुनियां में वैसे तो बहुत से लोग भाग्यशाली होते हैं, परंतु कुछ विशेष लोग इतने ज्यादा लक्की होते हैं कि हमे भी अपनी आँखों पर यकीन नहीं होता हैं. ऐसे ही एक भयंकर लक्की इंसान हैं बी. रत्नाकर पिल्लई. केरल के रहने वाले 66 वर्षीय रत्नाकर पिल्लई की किस्मत के किस्से सुनकर आप भी उनसे जलन करने लगेंगे.

अब पिछले साल क्रिसमस की ही बात हैं. रत्नाकर पिल्लई ने एक लोटरी टिकट ख़रीदा था जिसके बाद उन्हें पुरे 6 करोड़ की लोटरी लगी थी. अब ये बड़ा भाग्य का चमत्कार काफी नहीं था कि हाल ही में उनके हाथ एक और खजाना लग गया. दरअसल रत्नाकर पिल्लई ने उन 6 करोड़ रुपए में से कुछ पैसो से तिरुअनंतपुरम से कुछ किलोमीटर दूर किलिमनूर में एक खेत खरीद लिया. वे इस खेत में शकरकंद की फसल करना चाहते थे. इसके लिए जब उन्होंने खेत में खुदाई का काम शुरू किया तो जमीन के अंदर उन्हें कुछ ऐसा दिखा कि अपनी किस्मत पर यकीन ही नहीं हुआ.

जुताई में पिल्लई को एक मटका मिला जिसके अंदर कई प्राचीन मुद्राएं रखी हुई थी. जानकारी के अनुसार ये मटका करेब 100 साल पुराना हैं. इसके अंदर 2,595 प्राचीन सिक्के रखे हैं. इन सिक्कों का जब वजन किया गया तो ये 20 किलो 400 ग्राम निकला. दिलचस्प बात ये हैं कि सभी सिक्के ताम्बे की धातु के बने हुए हैं. सूत्रों के अनुसार ये सिक्के त्रावणकोर साम्राज्य के हैं.

सिक्के मिलने के बाद इन्हें लैब में जांच के लिए भेज दिया गया हैं. इन सिक्कों पर जंग भी लगी हुई हैं. हालाँकि अभी तक ये बात अस्पष्ट नहीं हैं कि इन सिक्कों की कुल कीमत कितनी हैं. एक्सपर्ट्स इसकी जांच करने के बाद ही सही कीमत का आकलन कर पाएंगे. जानकारों के अनुसार ये सिक्के त्रावणकोर के दो महाराजाओं के शासनकाल के समय चलन में हुआ करते थे. पहले राजा का नाम मूलम थिरुनल राम वर्मा हैं जिनका शासन काल 1885 से 1924 के मध्य रहा. वहीं दुसरे राजा का नाम चिथिरा थिरुनल बाला राम वर्मा  हैं. इनका शासन काल 1924 से 1949 तक का था. ये त्रावणकोर के अंतिम शासक भी थे.

उधर सोशल मीडिया पर जब लोगो को इस बात का पता लगा कि शख्स को पिछले साल 6 करोड़ की लोटरी लगी और इस साल प्राचीन सिक्कों का खजाना मिला तो उन्हें यकीन नहीं हुआ. आखिर कोई बन्दा इतना ज्यादा लक्की कैसे हो सकता हैं. यहाँ कुछ लोग तो लक छोड़िए इतने ज्यादा बदनसीबी हैं कि तिजोरी में रखा धन भी लूट जाता हैं. खैर ये सब ऊपर वाले का ही खेल हैं. वैसे इस पुरे मामले पर यदि आपकी कोई राय हैं तो हमें जरूर बताए. साथ ही ये जानकारी पसंद आई हो तो इसे दूसरों के साथ शेयर करे. वैसे क्या आप लोगो के साथ कभी कुछ ऐसा हुआ हैं कि आपको लगा हो आप दुनियां के सबसे लक्की इंसान हैं. अपने अनुभव हमारे साथ कमेंट में साझा अवश्य करे.