इस जन्माष्टमी पर खरीद कर घर ले आएं ये 5 चीजें , हो जाएंगे मालमाल।

भारत में हर वर्ष भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि पर जन्माष्टमी का पावन पर्व मनाया जाता है। इस वर्ष यह त्यौहार 18 अगस्त को पड़ रहा है। जन्माष्टमी पर हर कोई भगवान श्रीकृष्ण को प्रसन्न करने की कोशिश करता है। ऐसे में आज हम आपको उन चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें जन्माष्टमी पर खरीदना बेहद शुभ होता है।

गाय या बछड़ा

हम सभी गाय को मां कहकर संबोधित करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि उन्हें यह संज्ञा कैसे मिली? इसकी वजह भगवान श्री कृष्ण ही है। कृष्णजी को गाय से काफी लगाव था। वे अक्सर उन्हीं के पास खड़े होकर बांसुरी बजाया करते थे। उनकी बांसुरी की धुन सुनकर सभी गाय घास चरना छोड़कर उनके पास आ जाती थी।

 

कृष्णजी गाय को गाय माता कहते थे। इसलिए जन्माष्टमी पर गाय या फिर बछड़े की तस्वीर, मूर्ति खरीदना बेहद शुभ होता है। इसे मंदिर में रखने से संतान सुख मिलता है। यदि संभव हो तो आप असली की गाय या बछड़ा भी खरीद सकते हैं।

बांसुरी

कृष्ण जी की हर तस्वीर में उन्हें बांसुरी बजाते हुए देखा जा सकता है। वे अपनी बांसुरी की मधुर धुन से हर किसी का मन मोह लेते हैं। इसलिए हम कह सकते हैं कि बांसुरी और उनका गहरा नाता है। मान्यता है कि जन्माष्टमी के दिन चांदी की बांसुरी खरीदना और उसे श्रीकृष्ण को चढ़ाना शुभ होता है।

 

कृष्ण जी को बांसुरी अर्पित करने के बाद इसे किसी गरीब को दान कर देने से घर में कभी दरिद्रता नहीं आती है। आप चाहे तो इस बांसुरी को तिजोरी या धन रखने के स्थान पर भी रख सकते हैं। इससे आपके घर पर पैसों की आवक बनी रहेगी।

शंख

जन्माष्टमी के दिन शंख से लड्डू गोपाल का अभिषेक करना लाभकारी माना जाता है। दरअसल शंख में मां लक्ष्मी का वास होता है। और पौराणिक मान्यताओं के अनुसार श्री कृष्ण भगवान विष्णु के अवतार हैं। भगवान विष्णु को लक्ष्मी नारायण भी कहा जाता है।

 

इसलिए इस दिन शंख लाकर उससे भगवान कृष्ण का अभिषेक करना शुभ होता। अभिषेक करने के बाद घर में शंख बजाना ना भूलें। इससे घर की नेगेटिविटी दूर होगी। साथ ही बुरी शक्तियां भी आपके घर के आसपास नहीं भटकेगी।

मोरपंख

मोर पंख भगवान श्रीकृष्ण को कितना प्रिय है यह तो सभी जानते हैं। वे अपने मुकुट पर हमेशा मोर पंख लगाए रखते हैं। कहते हैं इस मोर पंख में गजब की शक्तियां होती है। इसे जन्माष्टमी के दिन घर लाने से घर की सभी नकारात्मक शक्तियां समाप्त हो जाती है।

 

यह मोर पंख घर का वास्तु दोष दूर करने का भी काम करता है। कहते हैं इसे घर में रखने से लड़ाई झगड़े नहीं होते हैं। घर में सुख शांति और समृद्धि बनी रहती है। इतना ही नहीं यह मोर पंख कालसर्प दोष भी दूर करता है।

वैजयंती माला

भगवान श्री कृष्ण के गले में हमेशा वैजयंती माला दिखाई देती है। कहते हैं कि जन्माष्टमी के दिन यदि आप घर में वैजयंती माला लाते हैं तो मां लक्ष्मी प्रसन्न होती है।

 

इसे आप खुद भी धारण कर सकते हैं। इससे भगवान श्री कृष्ण की कृपा आपके ऊपर बनी रहेगी। आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। गरीबी घर से दूर रहेगी। आय के नए साधन मिलेंगे।