अगर घर में होगी भगवान की ऐसी मूर्ति तो आज ही हटा दें, वरना कभी भी नहीं बन सकेंगे अमीर

हिंदूधर्म में अधिकतर सभी के घर में मंदिर तो होता ही है। वहीं कई लोग अपने घरों में में छोटे मंदिर बनवाएं जाते हैं तो कुछ घरों में बड़े मेंदिर बनवाएं जाते हैं लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि लोग मंदिर से जुड़ी कुछ गलतियां कर बैठते हैं जो घर के लिए अशुभ मानी जाती हैं। वास्तु शास्त्रों के अनुसार हर घर में एक कमरा ऐसा होता है जिस प्रकार वास्तु के अनुसार घर के किचन का स्थान है।

कुछ इसी तरह से घर के अन्‍य जगहों को भी शास्‍त्रो के अनुसार निश्चित किया गया है। जो लोग इन बातों का ध्‍यान रखते हैं वो हमेशा वास्तु के नियमों का भी प्लान करते हैं। इनमें एक खास नियम है जो कि पूजा घर से जुडा हुआ है वहीं सभी हिंदुधर्म के लोगों के घरों में पूजा घर का होना बेहद ही आवश्‍यक माना जाता है जिसमें लोग अपने पसंद के अनुसार विभिन्न देवी-देवताओं से संबंधित तस्वीर या मूर्ति रखते हैं। लोग श्रद्धापूर्वक इन देवी-देवताओं की पूजा और अर्चना करते हैं।

वहीं ये भी माना जाता है कि अगर आप घर के पूजा मंदिर से जुड़ी कुछ शास्‍त्रों के नियमों को ध्‍यान में रखेंगे तो आपकी आस्‍था हमेशा बनी रहेगी और साथ ही दैविय कृपा भी आप पर बरसती रहेगी। वास्तु शास्त्र में विशेषकर घर की दिशाओं और कोन से जुड़ी हुई कुछ खास बातें है। वास्‍तु में ये भी बताया गया है कि जिस प्रकार घर का मुख्य दरवाजा, किचन, बेडरूम आदि को वास्तु दोषों से दूर रख जाता है ढीक वैसे ही घर के पूजा मंदिर भी वास्तु दोषों से मुक्त होना चाहिए। हिंदूधर्म में ऐसी मान्यता है कि मनुष्य को मोक्ष की प्राप्ति ईश्वर के आशीर्वाद से ही हो सकती है। अगर भगवान की कृपा पूरे घर पर ही रहे तो इससे अच्छी क्या बात हो सकती है, इसीलिए हर घर में पूजा घर की स्थापना की जाती है।

वहीं आपको ये भी बता दें कि घर के इन सभी जगहों पर पूजा मंदिर वास्तु दोषों से सबसे अधिक प्रभावित होता है। अगर आपके घर का पूजा मंदिर वास्तु दोषों से प्रभावित है तो ध्‍यान रहे की इसका बुरा असर घर के सदस्यों पर पड़ता है। वहीं ये भी बताया गया है घर में भूलकर भी खंडित यानि टूटी हुई मूर्ति नहीं रखना चाहिए।

घर के मंदिर में कुछ मूर्तियों को नहीं रखना चाहिए। इन्हें रखने से घर में सुख समृद्धि और सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव कम होता जाता है, ऐसी मूर्तियाँ रखना घर में नकारात्मक उर्जा को बढ़ाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.