HomeUncategorizedघर में इस जगह ताला लगाने से लग सकता है किस्मत पर...

घर में इस जगह ताला लगाने से लग सकता है किस्मत पर ताला, भूलकर भी ना करें ऐसी गलती

कई घरों में खुशिया होने के बावजूद एक अलग सी उदासी नज़र आती है. अच्छी खबर आई नहीं कि  खुशियों को लोगों की नज़र लग जाती है. अचानक से कोई ऐसी खबर मिल जाती जिसके बारे में आपने सपने में भी नहीं सोचा होगा. दरअसल, लोगों की नज़र लगना तो मात्र एक भ्रम है. असल में तो घर का वास्तुदोष इसका मुख्य कारण होता है. वास्तुदोष के चलते घर में नकरात्मक उर्जा फैल जाती है. खुशियां होने के बावजूद लोग खुश नहीं रह पाते. घर के लोगों के साथ कुछ ना कुछ अप्रिय घटनाएं होती रहती है. कई लोग इसके पीछे की वजह समझ नहीं पाते. वह ये नहीं समझ पाते कि इसका कनेक्शन वास्तु शास्त्र से भी हो सकता है.

जब लोग घर से बाहर जाते हैं तो वह घर की सुरक्षा के लिए गेट पर ताला लगाकर जाते हैं. किसी भी जगह को सुरक्षित रखने में ताला और चाबी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. वैसे तो ताला-चाबी हर तरह से महत्वपूर्ण है लेकिन कुछ जगहें ऐसी भी होती हैं जहां इनका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. दरअसल, वास्तुशास्त्र में ताले को लेकर कुछ ऐसे नियम और कानून बनाये गए हैं जिन्हें अपनाना बेहद जरूरी है. जो लोग ये नियम नहीं अपनाते वह अक्सर दुखी और परेशान रहते हैं.

  • बता दें, पूरब दिशा को सूर्य का स्थान कहा जाता है. यदि आपके घर का गेट भी इस दिशा की तरफ है तो तांबे का ताला लगाने की कोशिश करें. यदि आप घर के इस दिशा में तांबे का ताला लगाते हैं तो घर की सुरक्षा बढ़ जाती है और घर में चोरी की संभावना भी लगभग समाप्त हो जाती है. इसके अलावा, ऐसा करने से घर के सदस्यों पर आने वाले संकट भी टल जाते हैं.

  • ज्योतिषशास्त्र में पश्चिम दिशा को शनि का स्थान माना गया है. कहते हैं कि शनि का स्थान होने की वजह से इस दिशा में हमेशा लोहे के भारी ताले ही लगाने चाहिए. इतना ही नहीं, जो ताला आप लगा रहे हैं उसका रंग काला होना चाहिए. कहते हैं कि काले रंग का ताला लगाने से चोरी का खतरा टल जाता है और साथ ही ऐसा करने से घर में आने वाली सभी नकरात्मक उर्जा सकरात्मक उर्जा में बदल जाती है. पर हां, इस दिशा में भूलकर भी तांबे के ताले न लगाएं. ऐसा करने से इसका विपरीत प्रभाव पड़ सकता है.

  • ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, उत्तर दिशा में पीतल के ताले लगाना चाहिए. ऐसा करने से घर चोरी-चकारी से सुरक्षित रहेगा. लेकिन याद रहे कि इस दिशा में लगे धातु के ताले का रंग सुनहरा होना चाहिए. यदि आप पांच धातु से बने ताले दक्षिण दिशा में लगाएंगे तो घर की सुरक्षा बनी रहेगी. यदि आपके पास पांच घातु से बने ताले नहीं है तो किसी भी ताले पर लाल या चेरी रंग चढ़ा लें और दरवाजे पर लगायें. ऐसा करने से आपका घर हमेशा सुरक्षित रहेगा और घर की सुख शांति भी बरकरार रहेगी.