HomeUncategorizedहनुमान जी के इन मंदिरों में दुखी लोगों का होता है उद्धार,...

हनुमान जी के इन मंदिरों में दुखी लोगों का होता है उद्धार, दूर-दूर से आते हैं श्रद्धालु

भगवान श्री राम भक्त महाबली हनुमान जी की महिमा के बारे में कौन नहीं जानता, इनकी महिमा अपरंपार है, वर्तमान समय में ऐसे बहुत से लोग हैं जो हनुमान जी की भक्ति में लीन रहते हैं, इनके मन में हनुमान जी के प्रति श्रद्धा और विश्वास कूट-कूट कर भरा हुआ है, ऐसा कहा जाता है कि कलयुग में महाबली हनुमान जी अपने भक्तों के सभी दुख दूर करते हैं, इसी वजह से लोग इनकी छत्रछाया में रहना पसंद करते हैं, जो व्यक्ति हनुमान जी की पूजा आराधना करता है उसके जीवन की सभी समस्याएं पल भर में दूर हो जाती है, महाबली हनुमान जी अपने भक्तों को हर बुरी परिस्थिति में सहयोग देते हैं।

आज हम आपको महाबली हनुमान जी के ऐसे चमत्कारिक और प्रसिद्ध मंदिरों के बारे में जानकारी देने वाले हैं जहां पर दर्शन करने के लिए लोग भारी संख्या में आते हैं, इन मंदिरों में दूर-दूर से लोग अपनी मनोकामनाएं लेकर आते हैं और बजरंगबली सभी श्रद्धालुओं की मनोकामनाएं सुनते हैं, इन मंदिरों में दर्शन करने वाले लोगों का हनुमान जी उद्धार करते हैं।

श्री संकट मोचन मंदिर, वाराणसी

महाबली हनुमान जी का एक मंदिर वाराणसी, उत्तर प्रदेश में स्थित है, इस मंदिर का वातावरण बहुत ही शांत है, इसके चारों तरफ एक छोटा सा वन है, इस मंदिर के परिसर में महाबली हनुमान जी की एक दिव्य प्रतिमा मौजूद है और संकट मोचन हनुमान जी के इस मंदिर के पास में ही भगवान श्री नरसिंह जी का भी मंदिर स्थित है, ऐसा बताया जाता है कि महाबली हनुमान जी की यह मूर्ति गोस्वामी तुलसीदास के तप और पुण्य से प्रकट हुई थी, अगर आप इस मूर्ति को देखेंगे तो इसमें हनुमान जी अपने दाएं हाथ से भक्तों को अभय दान करते हुए नजर आ रहे हैं और उनका एक हाथ हृदय पर है।

मेहंदीपुर बालाजी मंदिर, राजस्थान

महाबली हनुमान जी का एक मंदिर राजस्थान के दौसा जिले के पास दो पहाड़ियों के बीच में स्थित है, इस मंदिर को मेहंदीपुर बालाजी के नाम से भी लोग जानते हैं, हनुमान जी का यह मंदिर दो पहाड़ियों के बीच की घाटी में स्थित होने की वजह से इसको घाटा मेहंदीपुर भी कहा जाता है, ऐसा माना जाता है कि यह मंदिर लगभग 1000 वर्ष पुराना है, यहां पर हनुमान जी की आकृति एक विशाल चट्टान पर अपने आप उभर कर आ गई थी, इसको ही हनुमान जी का स्वरूप माना गया है, यह मंदिर बहुत ही शक्तिशाली और चमत्कारिक माना जाता है, देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी लोग इस मंदिर में दर्शन करने के लिए आते हैं, यह विश्व भर में काफी प्रसिद्ध है, इस मंदिर के अंदर भूत प्रेत की बाधा से पीड़ित लोगों का कल्याण होता है।

हनुमान धारा, चित्रकूट, उत्तर प्रदेश

महाबली हनुमान जी का एक प्रसिद्ध मंदिर उत्तर प्रदेश के सीतापुर नामक स्थान पर स्थित है, यह मंदिर पर्वतमाला के मध्य भाग में मौजूद है, हनुमान जी की एक विशाल मूर्ति पहाड़ के सहारे स्थित है और उसके सर के ठीक ऊपर से दो जलकुंड हैं जो हमेशा जल से भरे हुए रहते हैं और इनमें से लगातार पानी प्रवाहित होता रहता है, आपको बता दें कि जल की धारा हनुमान जी को स्पर्श करते हुए बहती रहती है, इसी वजह से इस मंदिर को हनुमान धारा कहा जाता है, इसके पीछे ऐसा बताया जाता है कि जब श्री राम जी के अयोध्या में राज्याभिषेक होने के पश्चात 1 दिन महाबली हनुमान जी ने भगवान श्री राम जी से कहा कि हे प्रभु ! मुझे कोई ऐसा स्थान बताएं जहां लंका दहन से उत्पन्न मेरे शरीर का ताप मिट पाए, तब भगवान श्री राम जी ने हनुमान जी को इसी स्थान के बारे में बताया था।