HomeUncategorizedनवरात्रि में माता को प्रसन्न करने के लिए इन विशेष बातों का...

नवरात्रि में माता को प्रसन्न करने के लिए इन विशेष बातों का रखें ध्यान, बनी रहेगी मां की कृपा

नवरात्रि का त्यौहार एक ऐसा पर्व है जिस समय चारों तरफ माता रानी के जयकारे गूंजते रहते हैं और इस समय के दौरान कुछ अलग ही रौनक देखने को मिलती है, नवरात्रि का त्यौहार शुरू होने से पहले ही मंदिरों में सजावट का कार्य आरंभ हो जाता है और लाइट लगाई जाती है, नवरात्रि के दिनों में सभी मंदिर जगमगाते रहते हैं, नवरात्रि के दिन माता के नौ रूपों की अलग-अलग 9 दिन पूजा की जाती है, माता के भक्त भी माता का उपवास करते हैं और इनकी 9 दिनों तक पूजा-अर्चना में लगे रहते हैं।

इस बार नवरात्रि का त्यौहार 29 सितंबर से आरंभ हो रहा है और यह 7 अक्टूबर तक रहेगा और 8 अक्टूबर को दशहरे का त्यौहार मनाया जाएगा, नवरात्रि के दिनों में बहुत से लोग माता रानी की कृपा प्राप्त करने के लिए इनका व्रत रखते हैं परंतु कई बार ऐसा होता है कि उनको अपने व्रत का पूर्ण फल प्राप्त नहीं हो पाता है, इसके पीछे मुख्य वजह यह है कि नवरात्रि के दिनों में कुछ नियमों का पालन करना बहुत ही आवश्यक है, अगर आप इन नियमों का पालन नहीं करते हैं तो इससे आपकी पूजा व्यर्थ होती है, आज हम आपको कुछ ऐसी विशेष बातों के बारे में जानकारी देने वाले हैं जिनको आप नवरात्रि के दिनों में अवश्य ध्यान दीजिए।

नवरात्रि में माता को प्रसन्न करने के लिए इन विशेष बातों का रखें ध्यान

  • अगर आप नवरात्रि के दिनों में माता रानी की पूजा कर रहे हैं तो आपको सबसे पहले अपने पूरे घर को ठीक प्रकार से साफ सुथरा करना होगा और आपने घर में गंगाजल छिड़क कर पवित्र करें, इसके पश्चात आप माता के दरबार में घी का दीपक जलाएं, अगर आप नवरात्रि के दिनों में अखंड ज्योत जला रहे हैं तो यह ज्योत 9 दिनों तक जलती रहनी चाहिए और इस समय के दौरान आप अपने घर को खाली ना छोड़े।

  • नवरात्रि के दिनों में कुछ नियमों का पालन करना बहुत ही जरूरी है, आप नवरात्रि के पूरे 9 दिनों तक अपने नाखून या फिर बाल ना काटे और ना ही नवरात्रि के दिनों में शेविंग करनी चाहिए।
  • मान्यता अनुसार नवरात्रि के दिनों में दिन के समय नहीं सोना चाहिए, अगर आप माता रानी का उपवास रखते हैं तो आप दिन में ना सोए।

  • नवरात्रि के दिनों में आप लहसुन, प्याज, मांस जैसे आहार का सेवन ना करें, आप नवरात्रि के दिनों में अगर माता रानी की पूजा कर रहे हैं तो रोजाना नियमित रूप से सुबह के समय सूर्य उदय से पहले उठ जाए और अपने शांत मन से स्नान आदि करने के पश्चात माता रानी की पूजा अर्चना कीजिए, आप सुबह फलाहार करने से पहले माता रानी की पूजा करें, उसके पश्चात आप चाहे तो दूध भी ले सकते हैं, पूरे दिन आप माता का मन ही मन ध्यान कीजिए, शाम के समय आप माता रानी की पूजा करें और उसके पश्चात ही फलाहार कीजिए।
  • नवरात्रि के दिनों में इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा कि जो बच्चे, बूढ़े और बीमार व्यक्ति है वह व्रत ना करें, इस प्रकार के लोग अपने सच्चे मन से माता रानी का ध्यान करें, उतने में ही माता रानी आपसे प्रसन्न हो जाएंगी, जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं माता रानी बहुत ही दयालु है और यह सिर्फ अपने भक्तों की श्रद्धा की भूखी रहती है।