शरीर से जान निकलने से पहले लोगों को मिलते हैं ये 4 संकेत, परछाई भी छोड़ देती है साथ

जीवन और मरण जीवन के ऐसे चक्र हैं जिससे कोई भी अछूता नहीं रहता है। विधि का ये विधान हैं कि जिसने इस धरती में जन्म लिया है उसको इस धरती में ही समाना होता है। कहते हैं कि मनुष्य का शरीर मिट्टी का होता है जब तक उसमें जान होती है तब तक वो कार्य करता है अन्यथा उसके बाद वो मिट्टी में मिल जाता है। बता दें कि भले ही साइंस ने आज काफी प्रगति कर ली हो लेकिन विधि के इस विधान को आज तक कोई नहीं बदल पाया है। जिसमें जन्म लिया है उसकी मृत्यु निश्चित है।

कहते हैं कि जिसकी मौत जैसे लिखी होती है वैसे ही होती है। किसी को बीमारी घेर लेती है तो किसी के साथ कोई अनहोनी या घटना हो जाती है। कभी कोई बड़ी से बड़ी विपत्ति से बचकर निकल आता है तो कभी किसी का एक छोटा सा कदम या गलती उसे मौत की राह पर ले जाती है। कहते हैं ना कि लिखे को कोई नहीं बदल सकता है। मौत को बहाना चाहिए होता है और वो किसी ना किसी बहाने से आ ही जाती है। बता दें कि ऐसा कहा जाता है कि जिस व्यक्ति की मौत आने वाली होती है उसको इस बात का आभास पहले से होने लगता है।

परछाई नहीं देती साथ

ऐसा माना जाता है कि मौत से पहले व्यक्ति को कई ऐसे संकेत मिलते हैं, जिनसे मरने वाले को आभास हो जाता है कि। तो चलिए अब आपको बताते हैं उन संकेतों के बारे में जो मौत के कुछ मिनट पहले ही इंसान को मिलते हैं। ये जानकर आपको आश्चर्य होगा लेकिन ऐसा बताया जाता है कि जब व्यक्ति को मृत्यु निकट होती है और वो मरने वाला होता है तो उसकी परछाई भी उसका साथ नहीं देती है। ऐसा कहा जाता है कि यदि मरने वाले व्यक्ति को उसके मरने से कुछ मिनट पहले यदि उस व्यक्ति का चेहरा पानी या तेल के बर्तन में दिखाया जाता है तो वहां उसकी परछाई दिखाई नहीं देती है।

चली जाती है आंखो की रोशनी

वहीं कहा जाता है कि जब किसी व्यक्ति की मौत होने वाली होती है तो उसकी आंखों की रोशनी चली जाती है और उसे दिखाई देना बंद हो जाता है। यहां तक की वो साफ बोल भी नहीं पाता है और आवाज भी कम सुनाई देती है। शरीर साथ देना बंद कर देता है और व्यक्ति बिल्कुल असहाय हो जाता है।

आईने में दिखता है दूसरे का चेहरा

वहीं कहा जाता है कि जब व्यक्ति को शीशे पर अपनी बजाए दूसरे का चेहरा दिखने लगता है तो समझ जाइए की बहुत जल्द ही उस व्यक्ति की मृत्यु होने वाली है। इतना ही नहीं जब मृत्यु करीब आने लगती है तो व्यक्ति को चाँद और सूरज की रोशनी भी नही दिखाई देती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.