HomeUncategorizedतुलसी की पूजा करते समय कर दें इस मंत्र का जाप, जीवन...

तुलसी की पूजा करते समय कर दें इस मंत्र का जाप, जीवन से दूर हो जाएंगी हर परेशनियां

तुलसी के पौधे को काफी पवित्र माना गया है और ऐसी मान्यता है कि इस पौधे की पूजा करने से इंसान को पुण्य की प्राप्ति होती है। इसके अलावा हमारे शास्त्रों में तुलसी को लक्ष्मी मां का रुप भी माना गया है। इसलिए तुलसी की पूजा करने से इंसान के जीवन में धन संबंधी परेशानियां कभी भी नहीं आती हैं।

रोज करनी चाहिए तुलसी के पौधे की पूजा –

हमारे शास्त्रों में लिखा गया है कि घर में लगे तुलसी के पौधे की रोजाना पूजा करनी चाहिए और दिन में दो बार तुलसी के सामने दीया जरुर जलाना चाहिए। दीपक के अलावा सुबह के समय तुलसी पर जल भी जरुर अर्पित करना चाहिए।

इस तरह से करें तुलसी की पूजा

तुलसी की पूजा शुरु करने से पहले तुलसी को प्रणाम करें। उसके बाद तुलसी के पौधे को जल अर्पित करें। जल चढ़ाने के बाद आप तुलसी के पौधे के सामने धूप या अगरबत्ती जला दें। अगरबत्ती जलाने के बाद आप इस मंत्र का जाप करें -“महाप्रसाद जननी सर्व सौभाग्यवर्धिनी , आधि व्याधि हरा नित्यं तुलसी त्वं नमोस्तुते।।” इस मंत्र का तीन बार जाप करने के बाद आप तुलसी के पौधे पर सिंदूर और फूल चढ़ाएं। फिर एक देसी घी का दीया भी तुलसी के सामने जला दें। रोज इसी तरह से तुलसी के पौधे की पूजा करने से आप पर और आपके परिवार वालों पर तुलसी मां की कृपा बन जाएगी। हालांकि आप इस बात का ध्यान रखें की आप सूर्यास्त होने के बाद तुलसी की पूजा करते समय तुलसी पर पानी ना चढ़ाएं और ना ही तुलसी को स्पर्श करें।

एकादशी के दिन जरुर किया करें तुलसी की पूजा –

एकादशी के दिन आप जरुर तुलसी की पूजा करें और तुलसी के सामने दीया भी जरुर जलाएं। दरअसल एकादशी के दिन तुलसी की पूजा करने से अधिक लाभ मिलता है और सदा जीवन में खुशियां बनी रहती हैं। एकादशी के दिन जब आप तुलसी की पूजा करें, तो इस मंत्र का जाप भी जरुर करें।

मंत्र

वृंदा वृंदावनी विश्वपूजिता विश्वपावनी। पुष्पसारा नंदनीय तुलसी कृष्ण जीवनी।।
एतनामांष्टक चैव स्त्रोतं नामर्थं संयुतम। य: पठेत तां च सम्पूज्य सौश्रमेघ फलंलभेत।।

एकादशी के दिन ऐसे करें पूजा

आप सबसे पहले तुलसी के सामने एक आसन बिछा दें और तुलसी के पास एक दीया जला दें। दीया जलाने के बाद आप आसन पर बैठ जाएं और हाथ में एक माला पकड़कर ऊपर बताए गए मंत्र का जाप करना शुरू कर दें। इस मंत्र का जाप आप कम से कम 108 बार करें। मंत्र का जाप पूरा करने के बाद आप तुलसी मां से सामने माथा टेक कर परिवार की सूख शांति की कामना करें।

इस दिन पूजा करने से मिलता है विशेष लाभ

ऐसा कहा जाता है कि हर एकादशी के दिन तुलसी मां की पूजा करने से विशेष आशीर्वाद प्राप्त होता है और  इस मंत्र का जाप पूजा के दौरान करने से घर-परिवार में सुख-समृद्धि हमेशा बनी रहती है। इसके अलावा तुलसी मां के सामने दीया जलाने से घर में नकरात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं कर पाती हैं। एकादशी के दिन तुलसी मां की पूजा करने के साथ-साथ विष्णु भगवान की पूजा भी जरुर करें।